Dharam Sagar Lake

One of the attractions of Panna. Temple in mid of the lake, you can spend some good time at the well prepared sides of the lake.

dharam-sagar-lake-in-panna

Dharam Sagar - a new chapter in the making of Panna. Dharam Sagar, one of the oldest Lake of Panna, was a natural Lake as it served as a catchment area of the water flowing down from surrounding hills through narrow streams of water. During monsoon if you go to the opposite side of the lake you can even find some small waterfalls and many streams of water flowing down from the hill. That side of Dharam Sagar is truly a hidden beautiful place not known to many of us.
But it was only in the mid eighteenth century when it was constructed as a proper Lake with ghats by the second King of Panna, Maharaja Sabha Singh who decided to shift the power from mau sahaniya to the Dharam Sagar of Panna due to its very strategic location.(Some records mention Hirde Shah, the first king of Panna and the son of maharaja chhatrasal as the one who shifted to Panna during his last quarter of rule, but the most widely accepted theory is of Sabha Singh as the one who did so during his early years.) The reason why he shifted his capital from a well established fortress in mau sahaniya, from where his father and grandfather ruled very successfully for such a long time were quite political and economical. And from then onwards the city expanded to this side from the Purana Panna area where most of the population was concentrated. And so Dharam Sagar played a key role in shaping the history and geography of Panna.

धर्म सागर तालाब पन्ना शहर का एक प्राचीन स्थल है। वैसे इस तालाब को धर्म सागर तालाब या धरम सागर झील भी कहते हैं। धर्म सागर तालाब चारों तरफ से पहाड़ियों से घिरा हुआ है। यह तालाब बहुत ही सुंदर लगता है। तालाब में सुबह के समय आप सूर्योदय देख सकते हैं, जो बहुत ही मनोरम रहता है। इस तालाब के बीच में मंदिर देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर से भगवान शिव जी को समर्पित है। इस तालाब के किनारे पर सुंदर गार्डन बना हुआ है। यहां पर बहुत सारे लोग सुबह के समय घूमने के लिए आते हैं और यहां पर एक क्लब भी बना हुआ है। यह एक प्राचीन इमारत बनी हुई है और यह जयपुरी स्टाइल में बनी हुई थी और यह क्लब बना हुआ है या यह मंदिर था। इसके बारे में मुझे जानकारी नहीं है, क्योंकि जब हम लोग यहां पर गए थे। तब यह बंद था और हम लोग इस पार्क में दीवार को कूदकर आए थे। वैसे इस पार्क में आने का जो सही रास्ता है। वह सब्जी मंडी से होकर आता है, तो आप जब भी यहां पर घूमने के लिए आते हैं। आप सब्जी मंडी के रास्ते होते हुए आएंगे, तो आप धर्म सागर में पहुंच जाएंगे।
हम लोग इस तालाब में अपनी स्कूटी से आए थे और स्कूटी से हम लोग महाराजा छत्रसाल स्टेडियम के बाजू से जो रास्ता बना हुआ है। हम लोग उस रास्ते से इस पार्क में आए थे, तो यहां का जो मेन गेट था। वह बंद था। मगर कुछ लोग यहां पर दीवार के ऊपर से कूदकर जा रहे थे, तो हम लोग भी दीवार से कूदकर पार्क में चले गए और धर्म सागर झील को देखने लगे।
धर्म सागर झील का पानी कम था। मगर यह झील खूबसूरत लग रही थी। धर्म सागर झील के बीच में मंदिर बना हुआ था। यह शिव मंदिर था और यह मंदिर सफेद रंग का था और बहुत ही सुंदर लग रहा था। धर्म सागर झील के किनारे पर आपको बहुत सारी प्राचीन छोटे-छोटे इमारतें देखने के लिए मिलती हैं, जो प्राचीन थी। इन इमारतें के ऊपरी सिरे में गुंबद देखने के लिए मिलता है और यह जो इमारतें हैं। यह महाराजा छत्रसाल के समय पर बनवाई गई थी।
धर्म सागर झील के पास पार्क में सुबह का समय था, तो सुबह के समय यहां पर बहुत सारे लोग मॉर्निंग वॉक के लिए आए थे। यहां पर कुछ लोग मछलियों को दाना डाल रहे थे और यहां पर मुसलमानों का मजार भी है, तो कुछ लोग वहां पर प्रार्थना कर रहे थे। धर्म सागर झील के पास, जो पार्क बना हुआ है। वहां पर बैठने के लिए भी चेयर बनी हुई है। आप चेयर पर बैठ कर इस झील का सुंदर नजारे को देख सकते हैं। झील के बीच में जो मंदिर बना हुआ है। वहां जाने के लिए आपको नाव से जाना पड़ता है। यहां पर नाव भी झील के किनारे पर रखी हुई थी। बस उसे चलाने वाले नहीं देख रहे थे, क्योंकि हम लोग बहुत सुबह गए थे। इसलिए शायद यहां पर कोई नहीं था। हम लोगों झील के पास रुक कर कुछ देर झील के सुंदर दृश्य को देखा। उसके बाद हम लोग गार्डन में घूमे और उसके बाद हम लोग रीवा शहर की दूसरी जगह देखने के लिए निकल पड़े।

धर्मसागर झील कहां स्थित है

धर्मसागर झील पन्ना शहर का एक प्रमुख पर्यटन आकर्षण है। यह झील पन्ना में पन्ना सब्जी मंडी के पास में स्थित है। यह झील सब्जी मंडी के आगे स्थित है। आप इस झील में गाड़ी से आराम से पहुंच सकते हैं। आप इस झील में आते हैं, तो आप छत्रसाल पार्क के आगे आना पड़ता है। यह झील छत्रसाल पार्क के आगे स्थित है।

  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake1
  • dharam-sagar-lake2
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
  • dharam-sagar-lake
dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake1 dharam-sagar-lake2 dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake dharam-sagar-lake

For Enquery

Email Id:- [email protected]

Call us at Tel: +918587034120

Contact Us