Places to Visit

panna-national-park-in-panna
Panna National Park

Panna National Park, situated in Panna district of Madhya Pradesh in central India, is located on the banks of River Ken. This National Park has been awarded as the best maintained tourist friendly national park of the country by the Ministry of Tourism of India.

diamond-mines-in-panna
Diamond Mines

Panna district is famous for its diamond mines located in a belt of about 80 km across the Panna town. MP Tourism offers a diamond tour on all days (except for Sunday) and it would be a unique experience in itself.The mining is undertaken by the Diamond Mining Project of National Mineral Development Corporation (NMDC Ltd) of Government of India.

ken-gharial-sanctuary-in-panna
Ken Gharial Sanctuary

Ken Gharial Sanctuary is adjoining to Panna national park forest. Their landscapes are almost of similar type with features like green forests, rocky outcrops, deep gorges, long canyons, waterfalls etc. These type of landscapes are very photogenic and also adventurous too. Raneh fall is famous tourist attraction nearby Khajuraho and mostly visited by tourists.

pandav-fall-and-caves-in-panna
Pandav Fall and Caves

Located within the territory of the Panna National Park, as the name suggests this place is where the Pandavas sought haven during their exile. Mythology enthusiasts, rejoice! This location is definitely going to leave you in awe, with the waterfalls, the deep lake and the lush green environs making it a perfect setting for your rendezvous with serenity.

brihaspati-kund-in-panna
Brihaspati Kund

Brihaspati Kund is a natural crater located in Panna District of Madhya Pradesh, Bundelkhand.It is popular tourist spot among locals. Distance from Panna is 25 Km and Distance from Kalinjar Fort is 18 Km southwards.

raneh-falls-in-panna
Raneh Falls

Raneh Falls, in a proximity to Panna is on the majestic Ken River. The cascading waterfall is scenic surrounded by wonderful rock formations. The main attraction here is the canyon of Crystalline Granite of 5 km long and100 ft deep. This granite has different shades of colors, pink, red, misty white, green and gray.

padmavati-devi-temple-in-panna
Padmavati Devi Temple

It is located on the north west corner near Kilkila river and it is believed to be very old temple. The religious and historical importance of this temple is immense under the belief that goddess padmavati, who was still alive and protector the prosperity and happiness of Panna. Maharaja Chhatrasal Bundela accept it as his Raj Lakshami although their kuldevi is Vindhyavasani.

jugal-kishor-ji-temple-in-panna
Jugal Kishor Ji Temple

Puranic name of Amarkantak was Riksha parvat. It is not only the Narmada which arises from Amarkantak, because theson River, initially referred to as Jwalawanti of Johila, the Mahanadi and the Amadoh, which is a major early tributary of the Godavari, all rise from within the Amarkantak plateau.

baldev-ji-temple-in-panna
Baldev ji Temple

The Baldeoji Temple has been inspired by a Roman architecture and has a gothic feel to it. The temple consists of a large hall called maha mandapa with massive pillars and is built on a raised platform so that one may obtain darshan even from outside the main gate. The attractive image of Shri Baldeoji is constructed in black shaligrami stone. Baldeoji temple is one of the finest structures in the area and represents the heights that Panna architecture has reached.

beni-sagar-lake-in-panna
Beni Sagar Lake

The other famous lake in the Panna district is the Beni Sagar Lake. Beni Sagar Lake, Panna is one of the first things that comes to the mind of many people, while discussing Panna tourism. The allure of this lake attracts the attention of the many peoples .the small boat riders in the lake is very beautiful in watching. The gathering of the small birds near the lake is mesmerizing. Natures adorned it with the beauty with free hands.

jain-temple-in-panna
Jain Temple

However, the chief temple has statues of three Tirthankaras- Shantinath, Kunthnath and Arahanath, each measuring 10 to 15 feet in height, speculated to also have been built in the 11th century.

sri-mahamati-prannathji-temple-in-panna
Sri Mahamati Prannathji Temple

The place where the peripatetic sage Mahamati Prannath and his disciples, who on reaching Panna realized the message of the awakening of one's soul. Constructed in 1692, this structure is inspired from both Hindu and Muslim architectural styles and beliefs.

gatha-falls-in-panna
Gatha Fall

Gatha Falls, one of the highest waterfalls in India, are the most beautiful waterfalls of this region. The 300 ft drop from the hill creates a wonderful sight and attracts onlookers crossing the highway. Visitors can enjoy the beautiful view and calm environment filled with the music of falling water which becomes livelier during the monsoons.

ajaigarh-fort-in-panna
Ajaigarh Fort

Ajaigarh or Ajaygarh Fort is listed among the top attractions of the region. It stands alone on a hilltop in the district of Panna and is easily accessible from Khajuraho. The fort is bordered by beautiful Vindhya Hills and provides absolutely stunning views of the Ken River. This grand fort is noted for its rich historical past and architectural beauty, which speaks volumes about the Chandela dynasty.s

dundhwa-falls-in-panna
Dundhwa Falls

Dundhwa Falls, one of the famous tourist spots, is located inside the Panna National Park. The falls are surrounded by thick vegetation and serve as a relaxing point for tourists while exploring the forest during jungle safaris. Various lodges and resorts in the region organise elephant rides apart from jeep safari which are the best way to reach these beautiful water falls.

Siddhnath-Aashram-in-panna
Siddhnath Aashram (सिद्धनाथ आश्रम)

Siddhnath Aashram (सिद्धनाथ आश्रम) | श्रीराम और अगस्त मुनि का मिलन स्थल मध्य प्रदेश के पन्ना जिले में स्थित सिद्धनाथ आश्रम वह स्थान है. जहां वनवास पर निकले प्रभु श्रीराम की मुलाकात अगस्त्य मुनि से हुई थी. इस आश्रम में राम ने लंबा समय बिताया था. इस आश्रम में आज भी भगवान राम से जुड़ी कई निशानियां मौजूद है. भव्य और अनूठे मन्दिरों के लिए प्रसिद्ध पन्ना जिले में हर तरफ इतिहास विखरा पड़ा है। प्राकृतिक मनोरम स्थलों की तो यहां पूरी श्रंखला है फिर भी इस इलाके में सैलानी नजर नहीं आते। पर्यटन विकास की अनगिनत खूबियों के बावजूद इस क्षेत्र को विकसित नहीं किया गया। यदि इस अंचल की धरोहरों को सहेजकर उन्हें पर्यटन के नक्शे पर लाया जाय तो यहां रोजगार के नये अवसर सृजित हो सकते हैं। सैलानियों को आकर्षित करने के लिए यहां पर छठवीं शताब्दी से लेकर ग्यारहवीं शताब्दी तक के अनूठे मन्दिर मौजूद हैं। इन मन्दिरों की स्थापत्य कला देखते ही बनती है। पन्ना जिले का सिद्धनाथ मन्दिर उनमें से एक है जिसकी शिल्पकला किसी भी मायने में खजुराहो से कम नहीं है. उल्लेखनीय है कि जिला मुख्यालय पन्ना से लगभग 60 किमी. दूर स्थित यह अनूठा स्थल अगस्त मुनि आश्रम के नाम से विख्यात है. इस पूरे परिक्षेत्र में प्राचीन मन्दिरों व दुर्लभ प्रतिमाओं के अवशेष जहां - तहां बिखरे पड़े हैं, जिन्हें संरक्षित करने के लिए आज तक कोई पहल नहीं हुई. पन्ना जिले के सिद्धनाथ मन्दिर की शिल्प कला देखने योग्य है, ऊंची पहाडिय़ों से घिरे गुडने नदी के किनारे स्थित इस स्थान पर कभी मन्दिरों की पूरी श्रंखला रही होगी. मन्दिरों के दूर - दूर तक बिखरे पड़े अवशेष तथा बेजोड़ नक्कासी से अलंकृत शिलायें, यहां हर तरफ दिखाई देती है. जिससे प्रतीत होता है कि यहां कभी विशाल मन्दिर रहे होंगे. मौजूदा समय उस काल का यहां पर सिर्फ एक मन्दिर मौजूद है जिसे सिद्धनाथ मन्दिर के नाम से जाना जाता है. पुराविदों का कहना है कि सलेहा के आसपास लगभग 15 किमी. के दायरे वाला क्षेत्र पुरातात्विक दृष्टि से अत्यधिक महत्वपूर्ण है. इसी क्षेत्र में नचने नामक स्थान भी है यहां पर गुप्त कालीन मन्दिर है.

kimasan-water-falls-in-panna
Kimasan Water Falls

Panna Tiger Reserve, Benisagar Mohalla, Panna, Panna District, Madhya Pradesh, 488101

kil-kila-waterfall-in-panna
Kil Kila Waterfall

Smaller rivers, typically tributaries of bigger rivers, are essential part of river eco-system. They hold the key to rejuvenation of big rivers. These small rivers are under multiple threats. They are slowly succumbing to damming, growing pollution, encroachments, mining and water extraction threats among others.

janwaar-castle-in-panna
Janwaar Castle

every child is so welcoming! Ulrike and the Rural Changemakers are truly inspiring. One can never forget the impact the kids make when they are on their skateboards. These children are our future!

dharam-sagar-lake-in-panna
Dharam Sagar Lake

One of the attractions of Panna. Temple in mid of the lake, you can spend some good time at the well prepared sides of the lake.

tendughat-dam-in-shahnagar-panna
Tendughat Dam

The Water Resources Department has built an 806 meter long and 37 meter high dam near Padraha of Shahnagar. Its revised cost is 600.81 crore. The ambitious project will irrigate 25 thousand hectare land of farmers of 83 villages of Powai and Gunour districts. Irrigation of 11 thousand hectares is to be done through canals. Due to the irrigation facility, the farmers of this region will now be able to take full yield from their fields.

jay-maa-kalehi-in-panna
Mata Kalehi Temple

विंध्य पर्वत श्रृंखला की तलहटी में बसे पन्ना जिले की पवई का नाम जुबान पर आता है, तो जेहन में दिव्य शक्ति मां कलेही का दिव्य दर्शन सामने आता है। वैसे तो शक्ति स्वरूपा नारायणी के अनेक रूप है, दुर्गा सप्तशती में वर्णित नव-दैवियों में मां कलेही सप्तम देवी कालरात्रि ही हैं। अष्टभुजाओं में शंख, चक्र, गदा, तलवार तथा त्रिशूल उनके आठों हाथों में है। पैर के नीचे भगवान शिव हैं, उनके दायं भाग में हनुमान जी तथा बायं भाग में बटुक भैरव विराजमान हैं। मां हाथ में भाला लिये महिषासुर का वध कर रही हैं। यह विलक्षण प्रतिमा साढ़े तेरह सौ वर्ष पुरानी है, जिसकी स्थापना विक्रम संवत् सात सौ में हुई थी।

choumukhnath-mandir
Choumukhnath Mandir

Choumukhnath Mandir (चौमुखनाथ मंदिर) पन्ना जिले के सलेहा में स्थित है भोलेनाथ की दुर्लभ चतुर्भुज प्रतिमा, 5वीं सदी का बताया जा रहा मंदिर. एक ही मूर्ति में दूल्हा, अर्धनारीश्वर और समाधि में लीन शिव के होते हैं दर्शन ैसे तो अपनी-अपनी जगह सभी शिव मंदिरों का महत्व है लेकिन सलेहा क्षेत्र के नचने का (Chaumukh Nath Mandir) चौमुख नाथ महादेव मंदिर (Chaumukh Nath Shiva Temple) का इतिहास ही अनोखा है। कहते है अति प्राचीन इस मंदिर में भगवान शिव के चार मुख वाली प्रतिमा स्थापित है। प्रतिमा का हर मुख अलग-अलग रूप वाला है। इस मंदिर के नीचे आज भी मौजूद है चमत्कारी मणि, एक रात में बना था देवतालाब का शिव मंदिर.

vaishnav-devi-dhaam-sungarha-in-panna
Maa Vaishnav Devi Dhaam

Maa Vaishno Devi Dhaam is a very beautiful Dhaam, located in Karondiya Village, it is 15 kms away from Katni on Panna road. Its best place for picnic and family outing.

chanda-silver-fall-pawai
Chanda Silver Fall, Pawai

पवई क्षेत्र में बारिश के बाद चांदा घाटी में चारों ओर हरियाली ही हरियाली दिखाई देने लगी है। झमाझम बारिश के बाद जंगलों से बहकर पानी आने से सिल्वर फाल में भी झमाझम पानी गिरना शुरू हो गया। वाटर फाल शुरू होने के बाद पहाड़ी का सौंदर्य देखते ही बनता है। फाल देखने के लिए प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में लोग पहुंच रहे हैं। फाल के आसपास का पूरा क्षेत्र पिकनिक स्पॉट में बदल गया है। आसपास के लोग पिकनिक मनाने यहां काफी संख्या में पहुंचने लगे हैं। ये दृश्य देखकर किसी भी पर्यटक की नजरें ही नहीं हट पा रही हैं। हर तरफ हरियाली ही हरियाली बता दें कि, चांदा घाटी का नजारा किसी पर्यटन स्थल से कम नहीं है। पहाड़ी पर जहां देखो वहां तक हरियाली ही हरियाली दिखाई देती है। प्रकृति के इस अनुपम सौंदर्य को निहारने प्रतिदिन बड़ी संख्या में आसपास के लोग पहुंचने लगे हैं। यहां दिनभरपिकनिक मनाने वालों का जमावड़ा लगा रहता है। यही पर बाबा झूलनशाह की दरगाह भी है। जहां हर शुक्रवार सैकड़ों की संख्या में लोग पहुंचते हैं। चांदी जैसे सफेद पानी के कारण पड़ा नाम स्थानीय लोगों ने बताया फाल के कुंड में करीब 300 फीट की ऊंचाई से पानी गिरता है। इस दौरान काफी ऊंचाई से गिरता हुआ पानी दूध और चांदी जैसा सफेद दिखता है। इसी कारण से इसको सिल्वर फाल का नाम दिया गया है। नामकरण किसने किया यह तो पता नहीं है, लेकिन लोग एक दूसरे से सुनते-सुनते कहने लगे। अब तो जिले के लोगों के बीच यह काफी पापुलर नाम है। उक्त फाल कटनी-पन्ना मार्ग में पवई से करीब 12 किमी. दूर है।

Ram Janki Temple
Ram Janki Temple

Shri Ram Janki Mandir (श्री राम जानकी मंदिर) Address: Kachehri Rd, Tikuriya Mohalla, Panna, Madhya Pradesh 488001

ganga-jhiriya-mandir
Ganga Jhiriya, Bisani

Ganga Jhiriya Picnic Place, Ganga Jhiriya Loard Shiv Mandir (गंगा झिरिया ॐ नमः शिवाय मंदिर), Ganga Jhiriya Loard Hanuman Mandir, पन्ना- कटनी मार्ग पर पवई से शाहनगर के बीच स्थित टिकरिया के निकट वन प्रांत में गंगा झिरिया नाम का यह सुरम्य व प्राचीन धार्मिक स्थल मौजूद है। गंगा झिरिया नाम का कुण्ड यहां स्थित है। जिसके पानी में तमाम चमत्कारिक गुण हैं। यह पानी भी कभी सूखता नहीं है। मकर संक्रांति के अवसर पर यहां भी विशाल मेला भरता है।

neelkanth-baba-aashram
Neelkanth Baba Aashram

Neelkanth Baba Aashram, Rampur Patha (नीलकंठ बाबा आश्रम, रामपुर पथा)

baba-kailashi-mahadev-in-panna
Baba Kailashi Mahadev

Baba Kailashi Mahadev Temple

ram-janki-temple-shahnagar
Ram Janki Temple, Shahnagar

Shri Ram Janki Mandir Shahnagar (श्री राम जानकी मंदिर)

pahad-kothi-hills-in-panna
Pahad Kothi Hills

Pahad Kothi Hills

bariyarpur-dam
Bariyarpur Dam Ajaigarh

Bariyarpur Dam Ajaigarh Panna

Lokpal Sagar
Lokpal Sagar Pond

Lokpal Sagar Pond (लोकपाल सागर तालाब )

chitragupta-mandir-in-panna
Chitragupta Mandir

Chitragupta Mandir